मध्य प्रदेश की धरती आम और संतरे के बगीचों से लहला आएगी


MP: 10 हजार एकड़ में होगा आम और संतरे का पौधारोपण, किसानों की बढ़ेगी आय





भोपाल: मध्यप्रदेश में अगले एक साल में एक हजार एकड़ और पांच साल में दस हजार एकड़ में अल्ट्रा हाईडें सिटी के आम और संतरे के पौधरोपण किया जाएगा. इससे अगले तीन साल में प्रति वर्ष प्रति एकड़ किसानों को एक से डेढ़ लाख रुपए की शुद्ध आय होगी. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ शनिवार को मंत्रालय में कोका कोला कंपनी और जैन इरीगेशन कंपनी के प्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक में यह तय किया गया.


मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा देकर हम किसानों की आय को दोगुना कर पाएंगे. इसके लिए जरूरी है निजी क्षेत्र के सहयोग से ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित करें जहां पर उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा दिया जा सकता है. राज्य सरकार के सहयोग से कोका कोला और जैन इरीगेशन कंपनी हरदा, होशंगाबाद, बैतूल, मंडला, डिंडौरी जिले में आम और आगर मालवा, शाजापुर एवं छिंदवाड़ा जिले में संतरे के खेती को प्रोत्साहित करेगी. पहले साल में एक हजार और अगले पांच साल में दस हजार एकड़ में आम और संतरे की खेती की जाएगी. इससे पहले साल में 700 किसान और पांच साल में 7000 किसान लाभान्वित होंगे.


एक एकड़ में 500 प्लान्ट लगाने के लिए किसानों को टीश्यू कल्चर पद्धति से तैयार पौधे किसानों को दिए जाएंगे. इसके लिए उन्हें ड्रिप इरीगेशन की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी. इस वर्ष सितंबर-अक्टूबर में उद्यानिकी विभाग 25 एकड़ में प्रदर्शन के रूप पौधरोपण करेगी और जनवरी अंत तक एक हजार एकड़ में किसानों के खेतों में अल्ट्राहाईडेंसिटी के प्लांटेशन करेगी.


कोका कोला कंपनी जरका जलगांव में तत्काल और तीन साल में बाबई में फ्रूट जूस बनाने के लिए खाद्य प्रसंस्करण ईकाई स्थापित करेगी. बैठक में मुख्यसचिव एसआर मोहन्ती, अपर मुख्य सचिव उद्यानिकी इकबाल सिंह बैस, अपर मुख्य सचिव जल संसाधन एम गोपाल रेड्डी, प्रमुख सचिव उद्योग राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव कृषि अजित केसरी एवं कोका कोला कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट असीम पारिख तथा जैन इरीगेशन के सेंट्रल इंडिया प्रमुख संजय भंडारी उपस्थित थे.



Popular posts